रचनाकारांच्या सांगीतिक व्यक्तिमत्वाचे उलगडले पैलू ! ऋत्विक फाउंडेशन फॉर परफॉर्मिंग आर्ट्‌‍सतर्फे पंडित सत्यशील देशपांडे यांचे ‘ख्याल विमर्श' या चर्चात्मक सादरीकरणाचे अखेरचे सत्र गांधर्व महाविद्यालयात आयोजित करण्यात आले ! - Golden Eye News - गोल्डन आय न्यूज
BREAKING NEWS

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Related Articles